नगर राजभाषा कार्यान्‍वयन समिति (नराकास)


नगर राजभाषा कार्यान्‍वयन समिति (नराकास): राजभाषा विभाग के दिनांक 25.02.2010 पत्र संख्‍या 12024/16/2010-रा.भा.(का-2) के कार्यालय ज्ञापन द्वारा नगर राजभाषा कार्यान्‍वयन समिति (दक्षिण दिल्‍ली) का गठन किया गया। नराकास के गठन के समय इसके सदस्‍यों की संख्‍या 64 थी। वर्तमान में नराकास के सदस्‍यों की संख्‍या बढ़कर 104 हो गई है। नराकास की बैठकों एवं गतिविधियों का विवरण निम्‍न प्रकार से है:-

  1. प्रथम अध्‍यक्ष: श्री एन.के. त्रिपाठी (भा.पु.से.), महानिदेशक, राष्‍ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्‍यूरो नगर राजभाषा कार्यान्‍वयन समिति, दक्षिण दिल्‍ली के प्रथम अध्‍यक्ष थे।
  2. वर्तमान अध्‍यक्ष: राधाकृष्ण किणी ए (भा.पु.से.), महानिदेशक, राष्‍ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्‍यूरो वर्तमान में नगर राजभाषा कार्यान्‍वयन समिति, दक्षिण दिल्‍ली की अध्‍यक्ष हैं।
  3. सदस्‍यता: नगर में स्थित केंद्रीय सरकार के कार्यालय/उपक्रमों/बैंक आदि अनिवार्य रूप से इस समिति के सदस्‍य होते हैं। दक्षिण दिल्‍ली के अंतर्गत आने वाले केन्‍द्र सरकार के कार्यालय नराकास की सदस्‍यता के पात्र हैं। संसदीय राजभाषा समिति के 7वें प्रतिवेदन पर महामहिम राष्‍ट्रपति के आदेशानुसार भारत सरकार,गृह मंत्रालय (राजभाषा) के संकल्‍प संख्‍या 11011/5/2003-रा.भा.(अनु.) दिनांक 13.07.2005 के तहत नगर राजभाषा कार्यान्‍वयन समिति के सभी सदस्‍य कार्यालयों के प्रशासनिक प्रधानों/कार्यालय प्रमुखों के लिए इस बैठक में शमिल होना अनिवार्य है ताकि राजभाषा कार्यान्‍वयन के संबंध में सार्थक चर्चा हो और व्‍यावहारिक एवं नीतिगत निर्णय लिए जा सकें। वर्तमान में नराकास के सदस्‍य कार्यालयों की संख्‍या 104 है।
  4. क्रियाकलाप: नराकास के मुख्‍यत: निम्‍नलिखित कार्य निर्धारित किए गए हैं:-
    • राजभाषा अधिनियम/नियम और सरकारी कामकाज में हिंदी के प्रयोग को बढ़ाने के संबंध में भारत सरकार द्वारा जारी किये गये आदेशों और हिंदी के प्रयोग से संबंधित वार्षिक कार्यक्रम के कार्यान्‍वयन की समीक्षा करना।
    • नगर में स्थित केंद्रीय सरकार के कार्यालयों आदि में हिंदी के प्रयोग को बढ़ाने के संबंध में किये जाने वाले उपायों पर विचार करना।
    • हिंदी के संदर्भ साहित्‍य, टाइपराइटरों, आशुलिपिकों, टंककों आदि की उपलब्‍धता आदि की समीक्षा करना।
    • हिंदी भाषा, हिंदी टंकण और हिंदी आशुलिपि के प्रशिक्षण आदि से संबंधित समस्‍याओं पर विचार करना।
  5. बैठकों का आयोजन: नराकास की वर्ष में दो बैठकें आयोजित की जाती हैं। पहले ये बैठकें मई/अक्‍तूबर माह में आयोजित की जाती थी। राजभाषा विभाग के दिनांक 13.07.15 पत्र संख्‍या 19/3/13/2011-उ.क्षे.का.का./2445 के अनुसार ये बैठकें अगस्‍त/जनवरी माह में आयोजित की जाती है।
  6. संसदीय राजभाषा समिति:दिनांक 27.03.2015 एवं 20.08.2015 को संसदीय राजभाषा समिति की आलेख एवं साक्ष्‍य उप समिति द्वारा नराकास अध्‍यक्ष एवं कुछ सदस्‍य कार्यालयों के साथ एक विचार-विमर्श बैठक आयोजित की गई थी। इस बैठक का कोई समय निर्धारित नहीं है। यह बैठक/निरीक्षण संसदीय राजभाषा समिति ‍द्वारा समय-समय पर आयोजित की जाती है।
  7. सभी सदस्‍य कार्यालयों से अनुरोध है कि अपने कार्यालय से संबंधित किसी भी प्रकार की सूचना जैसे ई-मेल, फोन,पता व अन्‍य कोई जानकारी अद्यतन कराने के लिए अथवा सभी सदस्‍य कार्यालयों के बीच परिचालित करवाने के लिए नराकास, दक्षिण दिल्‍ली के अधिकृत ई-मेल hindisection@ncrb.nic.in पर ई-मेल करने का कष्‍ट करें। सभी महत्‍वपूर्ण सूचनाओं को अध्‍यक्ष कार्यालय की वेबसाइट पर उपलब्‍ध करा दिया जायेगा।